Header Ads

बीजापुर(बस्तर)डेढ़ माह में सिलसिलेवार पांच बच्चे सहित दर्जन भर ग्रामीणों ने गवाई जान

जहां एक ओर समूचा सरकार 14 साल होने पर अपनी उपलब्धि मीडिया को गिना रहा है। तो वही दूसरी ओर राजधानी से दूर बस्तर संभाग के बीजापुर जिले में मलेरिया                               के चलते लोग अपनी जान गंवा रहे है। आप को जानकारी हो कि प्रदेश के वन मंत्री महेश गागड़ा का यह क्षेत्र है। 
         मालूम हो कि बस्तर संभाग के बीजापुर जिले के भैरमगढ़ विकासखंड अंतर्गत जैवारम ग्राम पंचायत के अलग-अलग वार्ड में बीते डेढ़ माह में दर्जनभर मौतें हुई हैं। सिलसिलेवार मौतों से अब समूचा गांव दहशतजदा है। गांव में जहां मातमी सन्नाटा है, बीजापुर जिला मुख्यालय से तकरीबन 19 किमी दूर बीजापुर-गीदम नेशनल हाईवे पर जैवारम गांव पड़ता है। स्वास्थ्य अमला का भी कहना है कि आंकड़े सही है। प्रभारी खंड चिकित्सा अधिकारी डाॅ पुनीत कोर्राम कहते है जैवारम में ग्रामीणों की डेढ़ माह में सिलसिलेवार मौते हुई डॉ कोर्राम कहते है यह मौते आकस्मिक, परंतु अलग-अलग बीमारियों से जानें गईं। मरने वालों में पांच बच्चे भी शामिल है। इनमें चांदनी पिता पोदिया 7वर्ष, लक्ष्मी पिता मंगू 8 वर्श, आर्यन पिता सुनील 7 वर्ष, अजेष पिता लखमू 5 वर्ष, संगीता पिता सीताराम 7 वर्श के अलावा जमली पिता पंडरू 18 वर्ष, जगन्नाथ पिता पेद्दा 40 वर्ष, पीलूराम पिता षिवनाथ 45 वर्ष, मुन्ना उर्सा पिता स्व भीमा 40 वर्ष, मोटली कुरसम पिता लक्खू 30 वर्ष, मंगली उर्सा पिता बेल्ला 60 वर्ष, सन्नू पुनेम पिता गुड्डी 50 वर्श शामिल है। 
चिकित्सक की मानें तो कुछ मौतें मलेरिया से तो कुछ अन्य बीमारियों से हुई है। मृतकों में कुछ की मौत गांव में व बीजापुर चिकित्सालय में इलाज के दौरान हुई थी। प्रभारी बीएमओ के मुताबिक मामला संज्ञान में आने के बाद गत 17 नवंबर को जैवारम गांव में मेडिकल टीम ने कैम्प किया था। मलेरिया की आशंका है पर व्यस्कों के साथ-साथ बच्चों के ब्लड सेम्पल में गए थे। इनमें 45 नमुनों में मलेरिया की पुष्टि के बाद आवश्यक दवाइयां देकर उनका इलाज किया गया था। 
इधर, ग्रामीणों का कहना है कि गांव में एएनएम, मितानिन है, लेकिन अलग-अलग वार्डों में हुई मौतों की भनक स्वास्थ्य अमले को देर से लगी। फिलहाल दर्जनभर मौतों के बाद जैवारम गांव में ग्रामीण सहमे हुए हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग मोतों के पीछे विभिन्न बीमारियों का हवाला देते हुए स्थिति नियंत्रण में होने का दावा कर रहा है। 

Powered by Blogger.