Header Ads

भाड़े की भीड़ की जरुरत आन पड़ी 14 साल की उपलब्धियां गिनाने मुख्यमंत्री जी को...

छत्तीसगढ़ प्रदेश की भाजपा शासित रमन सरकार को 14 साल के कार्यकाल की उपलब्धियां बताने भाड़े की भीड़ की जरुरत पड़ रही है। यही नही मीडिया में प्रायोजित कार्यक्रम कर सरकार का महिमामंडित करने में कोई कसर बाकी नही रह गया है। खान-पान के साथ 14 साल की उपलब्धिया पूरा मंत्रीमंडल रोज सभाए कर प्रेस के माध्यम से गिना रही है। लेकिन बस्तर में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी को 14 साल की उपलब्धिया बताने के लिए भाड़े की भीड़ की जरूरत आन पड़ी है?

आप को बता दे कि मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह 14 साल बेमिसाल कार्यक्रम के तहत बस्तर जिले के परचनपाल में आज जन सभा को 14 साल की उपलब्धियों और योजनाओं को लेकर संबोधित करेंगे। लेकिन इस सभा को सफल बनाने के लिए भाड़े की भीड़ जुटाई जा रही है। बाकायदा इसके लिए ग्राम पंचायत के सचिव सरपंच के साथ शिक्षाकर्मियो को ट्रको में ग्रामीणों को इकठ्ठा कर कार्यक्रम स्थल तक लाने का आदेश जारी है। 

विदित हो कि ये वही शिक्षाकर्मी है जिन्होंने हाल में सिंविलियन करने को लेकर आन्दोलन किया था सरकार कहती थी बच्चो की शिक्षा प्रभावित हो रही है सरकार ने पूरी ताकत इन पर झोंक दी थी, अब उन्ही शिक्षाकर्मियो को 14 साल की उपलब्धिया बताने भाड़े का भीड़ जुटाने का जिम्मेदारी सौपा गया है. अब शायद अब शिक्षा प्रभावित नही हो रही है

जानकारी के अनुसार बीईओ बास्तानार ने 8 दिसम्बर को आदेश जारी कर मुख्यमंत्री की सभा में बास्तानार से भीड़ को 11 दिसम्बर को ट्रको में भरकर कार्यक्रम स्थल ले जाने का फरमान सुनाया है, ये आदेश एक शिक्षा विभाग का है जिसके आदेश का प्रति शोसल मीडिया में शिक्षाकर्मियो ने वायरल किया है। ऐसे अन्य विभाग भी होंगे जिन्होंने भीड़ जुटाने के लिए आदेश दिया होगा। 11 दिसम्बर की रात की एक फोटो आप देख सकते है किस तरह ट्रकों में भर कर ग्रामीणों को रात को ही जन सभा स्थल तक ले जाया जा रहा है। भीड़ को ठण्ड में ही रात को सभा स्थल के पंडाल में सुलाया जाएगा,मुख्यमंत्री जी का कर्यक्रम शुभः 9 बजे से शुरू होना है आज रात ट्रकों में भरकर भीड़ सभा स्थल में इकठ्ठा किया जाएगा। तो क्या मुख्यमंत्री जी भाड़े के भीडो को 14 साल की अपनी उपलब्धिया गिनाएंगे? सवाल तो यही उठ रहे है। आखिर जनकल्याण में कार्य हुए है तो भीड़ जुटाने की जरूरत पड़ रही है ? खबर तो यही भी है कि सरकार अपनी 14 साल की उपलब्धिया गिनाने मीडिया का सहारा लेने में कोई कसर नही छोड़ रही है| लगातार सरकारी प्रायोजित कर सरकार का महिमामंडन किया जा रहा है। वही सरकार जहा उपलब्धिया गिना रही है तो दूसरी और विपक्षी पार्टी कांग्रेस खामिया गिना रही है|


जानकारी हो कि बस्तर में अभी कांग्रेस की 8 सींटे है वही 4 सींटे भाजपा के पास है। वही पिछली बार 12 में से 11 सींटे भाजपा के पास थी। वापस जानाधार पाने भाजपा जी तोड़ मेहनत कर रही है। बरहाल 12 दिसम्बर को मुख्यमंत्री जी ट्रकों में भर कर लाए गए भाड़े की भीड़ को उपलब्धियां बताएंगे ।

Powered by Blogger.