Header Ads

आदिवासी युवा छात्र संघठन ने किया संविधान जालाने वाले के खिलाफ प्रदर्शन


संविधान जलाने वालो को फाँसी की सजा दिलाने
की मांग को लेकर दिनांक 27 अगस्त 2018 को जिला : कांकेर में रैली/धरना, प्रदर्शन  कर ज्ञापन सोंपा गया 

9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस के दिन कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा दिल्ली के जंतर मंतर स्थान में भारत के संविधान को जलाया गया साथ ही संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर के लिए लिए आप्पत्ति जनक शब्दों सहित आरक्षण मुर्दाबाद के नारे लगाये गए ।यह कृत्य देशद्रोह की श्रेणी में आता है ।इसके विरोध में सर्व आदिवासी समाज एवं आदिवासी युवा छात्र संगठन कांकेर द्वारा संविधान जलाने वालो के ऊपर देशद्रोह का केश दर्ज करने के लिए कलेक्टर को ज्ञापन सोंपा गया ।
विनीत : सर्वआदिवासी समाज एवं आदिवासी युवा छात्र संगठन कांकेर बस्तर छःग


रिपोर्ट-राकेश कुमार दर्रो 
Powered by Blogger.