Header Ads

आमाबेड़ा लेम्पस के अन्तर्गत आने वाले 85 गांवों के लिए मात्र एक खरीदी केन्द्र


कांकेर। अंतागढ़ विकास खण्ड के उप तहसील मुख्यालय आमाबेड़ा लेम्पस के उन्नति 85 गांव आते है । प्रशासन ने इतने ग्रामों में के लिए मात्र एक धान खरीदी केन्द्र लेम्पस मुख्यालय आमाबेड़ा में ही संचालित की गई है । एक ही खरीदी होने के वजह से धान बेचने वाले किसानों को लम्बी दूरी तय कर धान बेचने खरीदी केन्द्र तक लाना पड़ रहा है । जिससे इन्हें आर्थिक व मानसिक  परेशान का सामना करना पड़ रहा है । 
    अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य समिति के सदस्य रमेश गावड़े ने प्रेस को जारी बयान में बताया कि अंतागढ़ विकास खण्ड के उप तहसील मुख्यालय आमाबेड़ा लेम्पस के अन्तर्गत ग्राम पुसाघाटी, गुमझीर, अड़ेगा, डुवाल, खड़का, निलझर, पुसागांव, चिचगांव, चिखली, बेलोड़ी, राजपुर, तुमसनार, एटेगांव, नागरबेड़ा, तिमनार, चंगोड़ी, सेन्दूरमेटा, अर्रा, कोलियारी, राहकान टोला, सेमरगांव, मांडम, तेवड़ा, बड़ेतेवड़ा, सुकलापाल, गेडगांव, भर्रीटोला, पेंजोड़ी, लोहत्तर, हुर्रा पेंजोड़ी, चिचगांव जिसमें 02 दर्जन से अधिक ग्रामों की दूरी खरीदी केन्द्र से लगभग 15 से 20 कि.मी. है जबकि जिले के अन्य मैदानी इलाकों में प्रशासन द्वारा मात्र 05-06 कि.मी की दूरी पर एक खरीदी केन्द्र संचालित की गई है । उन्होंने लेम्पस मुख्यालय आमाबेड़ा खरीदी केन्द्र के अलावा अन्य दो स्थान पर नई खरीदी केन्द्र संचालित करने की मांग की है।
Powered by Blogger.